Skip to toolbar

Rafta Rafta Ho Gayi Lyrics

2 views

Singer : Krishnakumar Kunnath (K.K)
Music Director : Jeet Ganguly
Writer : Sanjay Masoom

Rafta rafta ho gayi
Tu hi meri zindagi
Rafta rafta ho gayi
Charon taraf roshni

Sajde me tere sar hai
Thoda sa dil me darr hai
Kaise karun me bayaan

Janu na.. Janu na..
Janu na..aa..
Rafta rafta ho gayi

Chahe didar tera nazrein jhuke bhi
Mere kadam chalna chahe ruke bhi
Lab bhi kuch kehna chahe
Lekin gum hai sab baatein
Gumshum si bhi hai jubaan

Chahe didar tera nazrein jhuke bhi
Mere kadam chalna chahe ruke bhi
Lab bhi kuch kehna chahe
Lekin gum hai sab baatein
Gumshum si bhi hai jubaan

Rafta rafta ho gayi
Tu hi meri zindagi
Rafta rafta ho gayi
Charon taraf roshni

Sajde me tere sar hai
Thoda sa dil me darr hai
Kaise karun me bayaan

Janu na.. Janu na..
Janu na..aa..
Rafta rafta ho gayi

Mera wajood ab to mujhme hai saamil
Soahbat me teri mujhe sab kuch haansil
Phir kyun lagata hai aisa
Jaise me hoon be-khudsa
Dhoondhu me khud ko kaha

Mera wajood ab to mujhme hai saamil
Soahbat me teri mujhe sab kuch haansil
Phir kyun lagata hai aisa
Jaise me hoon be-khudsa
Dhoondhu me khud ko kaha

Rafta rafta ho gayi
Tu hi meri zindagi
Rafta rafta ho gayi
Charon taraf roshni

Sajde me tere sar hai
Thoda sa dil me darr hai
Kaise karun me bayaan

Janu na.. Janu na..
Janu na..aa..
Rafta rafta ho gayi…

रफ्ता रफ्ता हो गया
तू ही मेरी ज़िंदगी
रफ्ता रफ्ता हो गया
चारण तराफ रश्नी

सजदे मेरे तेरे सर हैं
थोडा सा दिल मेरा देवर है
कैस करूं मैं ब्यान

जनु ना ।। जनु ना ।।
जानू ना..आया ।।
रफ्ता रफ्ता हो गया

चले दीदार तेरा नाज़रीन झूके भी
मेरे कदम चलन में रूके हैं
लब भई कुच कहेना
लेकिन गम है सब बातिन
गुमसुम सी बोली है जुबान

चले दीदार तेरा नाज़रीन झूके भी
मेरे कदम चलन रहे रूके भी
लब भई कुच कहेना छे
लेकिन गम है सब बातिन
गुमसुम सी बोली है जुबान

रफ्ता रफ्ता हो गया
तू ही मेरी ज़िंदगी
रफ्ता रफ्ता हो गया
चारण तराफ रश्नी

सजदे मेरे तेरे सर हैं
थोडा सा दिल मेरा देवर है
कैस करूं मैं ब्यान

जनु ना ।। जनु ना ।।
जानू ना..आया ।।
रफ्ता रफ्ता हो गया

मेरा वजूद अब मुजमे है सैमिल
सोहबत मे तेरी मुजे सब कुछ हांसिल
फेर कयूँ लगता है आइसा
जय हो मुझे हो खूद
धोंधु मैं खूद को काहा

मेरा वजूद अब मुजमे है सैमिल
सोहबत मैं तेरी मुजे सब कुछ हांसिल
फेर कयूँ लगता है आइसा
जय हो मुझे हो खूद
धोंधु मैं खूद को काहा

रफ्ता रफ्ता हो गया
तू ही मेरी ज़िंदगी
रफ्ता रफ्ता हो गया
चारण तराफ रश्नी

सजदे मेरे तेरे सर हैं
थोडा सा दिल मेरा देवर है
कैस करूं मैं ब्यान

जनु ना ।। जनु ना ।।
जानू ना..आआ ।।
रफ्ता रफ्ता हो गया …

Rafta Rafta Lyrical | Raaz 3 I Emraan Hashmi I Esha Gupta I Bipasha Basu

Responses