Tauseef Baksh – Tujhse Naraz Nahi Zindagi

Description

Tauseef Baksh – Tujhse Naraz Nahi Zindagi

Lyrics

Tujhse Naraz Nahin Zindagi
Anup Ghoshal
तुझसे नाराज़ नहीं ज़िन्दगी
हैरान हूँ मैं
हो हैरान हूँ मैं
तेरे मासूम सवालों से
परेशान हूँ मैं
हो परेशान हूँ मैं
तुझसे नाराज़ नहीं ज़िन्दगी, हैरान हूँ मैं
हो हैरान हूँ मैं
तेरे मासूम सवालों से परेशान हूँ मैं
हो परेशान हूँ मैं
जीने के लिए सोचा ही नहीं
दर्द संभालने होंगे
जीने के लिए सोचा ही नहीं
दर्द संभालने होंगे
मुस्कुराये तो, मुस्कुराने के
क़र्ज़ उतारने होंगे
हो मुस्कुराऊं कभी तो लगता है
जैसे होंठो पे क़र्ज़ रखा है
हो तुझसे नाराज़ नहीं ज़िन्दगी, हैरान हूँ मैं
हो हैरान हूँ मैं
ज़िन्दगी तेरे ग़म ने हमें
रिश्ते नए समझाए
ज़िन्दगी तेरे ग़म ने हमें
रिश्ते नए समझाए
मिले जो हमें धूप में मिले
छाँव के ठण्डे साये
हो तुझसे नाराज़ नहीं ज़िन्दगी, हैरान हूँ मैं
हो हैरान हूँ मैं
आज अगर भर आई है
बूंदे बरस जाएगी
आज अगर भर आई है
बूंदे बरस जाएगी
कल क्या पता किनके लिए
आँखें तरस जाएगी
ओ जाने कब गुम हुआ, कहाँ खोया
इक आंसू छुपा के रखा था
हो तुझसे नाराज़ नहीं ज़िन्दगी, हैरान हूँ मैं
हो हैरान हूँ मैं
तेरे मासूम सवालों से परेशान हूँ मैं
हो परेशान हूँ मैं
हो परेशान हूँ मैं
हो परेशान हूँ मैं
Source: Musixmatch
Songwriters: Rahul Dev Burman
Tujhse Naraz Nahin Zindagi lyrics © Saregama Music United States

Listen

YouTube
  1. Subscribe
Donate

Please consider Donating to keep our culture alive



By Chutney Music

Hello and Welcome! I am the Chutneymusic.com Robot and I am here to answer any questions you may have.

Leave a comment